blank

Dr Sunil Kumar Verma

Dr Sunil Kumar Verma is an experienced Principal Scientist with a demonstrated history of working in the research industry for more than 20 years. Skilled in Molecular Medicine, Genetics, Translational Research and Wildlife Forensics, Dr Verma has done his doctorate from the University of Oxford. UK.

He had been the inventor of 'Universal Primer Technology' (US Patent 7141364), which led to the establishment of India's first wildlife forensics cell in the LaCONES of CCMB to provide wildlife forensics services to the nation.

He is also the recipient of several national and international awards and honours, including the 2008 CSIR Technology Award, the 2009 NRDC Meritorious Invention Award of Govt. of India and the 2009 BioAsia Innovation Award in recognition of his contribution to Indian science and technology.

rss feed

Dr Sunil Kumar Verma's Latest Posts

Heartfelt Tributes to Father of DNA Fingerprinting Dr Lalji Singh!!

Heartfelt Tributes to Father of DNA Fingerprinting Dr Lalji Singh!!

| December 10, 2017 | 0 Comments

Father of DNA Fingerprinting in India, Former Director of CCMB, Former Vice Chancellor of Banaras Hindu University, Padma Shri Dr Lalji Singh Passed Aawy today at approx 9 PM! It is a personal loss to every scientist and every citizen of this Nation. Dr Singh will be remembered for ever and he will always remain […]

Continue Reading

भोलेनाथ अघोरीनाथ : एक राष्ट्रसेवक, संसार की भीड़ के बीच एक भरतवंशी शिशु

भोलेनाथ अघोरीनाथ : एक राष्ट्रसेवक, संसार की भीड़ के बीच एक भरतवंशी शिशु

| November 23, 2017 | 0 Comments

बाबा अघोरी नाथ कौन हैं, कहाँ रहते हैं, क्या है, क्या थे, शायद बिरले ही जानते होंगें| आपके लेखन से यह तो विदित है कि आप अपने काल के विख्यात वैज्ञानिक या प्रोफेसर ही रहे होंगें, किन्तु आपकी लेखनी की विद्वता का पुट आपको किसी महामानव से कम सिद्ध नहीं करता | आज, आप सोशल […]

Continue Reading

<span style='font-size: 12pt;'>Illuminating India: 5000 Years of Science and Innovation</span> <hr />Celebration of India’s contribution to science, technology and mathematics during last 5000 years begins in London

Illuminating India: 5000 Years of Science and Innovation
Celebration of India’s contribution to science, technology and mathematics during last 5000 years begins in London

| October 23, 2017 | 0 Comments

The Science Museum at Exhibition Road, South Kensington, London SW7 2DD is Celebrating 5000 years of Science and Innovation from India. The exhibition “Illuminating India: Exhibition of 5000 Years of Science and Innovation” is open for public during 4 October 2017 – 31 March 2018 London के सुप्रसिद्ध साइंस म्युसियम में इन दिनों एक खास […]

Continue Reading

A Tribute to Dr Pushpa Mittra Bhargava: Architect of Modern Biology in India

A Tribute to Dr Pushpa Mittra Bhargava: Architect of Modern Biology in India

| August 25, 2017 | 0 Comments

Dr. PM Bhargava (22 February 1928 – 01 August 2017) On Tuesday, 1st August 2017, biologist Dr Pushpa Mittra Bhargava died at the age of 89. Bhargava (Born: 22 February 1928) was the founder of ‘CSIR Centre for Cellular and Molecular Biology (CCMB)‘ one of the prime research institute of India located in the city […]

Continue Reading

Donor on Call – एक लाइफ सेविंग एप्प

Donor on Call – एक लाइफ सेविंग एप्प

| July 14, 2017 | 0 Comments

क्या कोई app किसी की जान बचा सकता है? क्या कोई app मात्र एक साल में नदी बनकर बह जाने वाले एक लांख लीटर से भी ज्यादा खून को बहने से रोक सकता है? जी हाँ, यह संभव है, और यहीं अपने भारत में ही इसकी शुरुवात हो चुकी है | सबसे पहले आप सोच […]

Continue Reading

अद्भुत जडी – हाथ जोड़ी (Hatha Jodi) का अंतिम सत्य

अद्भुत जडी – हाथ जोड़ी (Hatha Jodi) का अंतिम सत्य

| June 24, 2017 | 4 Comments

मुझे समझ नहीं आ रहा है, कि इस लेख को लिखते हुए दो आंसू खुशी के टपकाऊँ या दुःख के! खुशी के इसलिए कि अंत में विज्ञान की जीत हुयी और प्रकृति  माँ के हत्यारों की हार…. दुःख के आंसूं इसलिए कि भारत की अति उत्साही जनता कितनी लालची, कितनी भीरु और कितनी धर्मान्ध है, […]

Continue Reading

<span style='font-size: 12pt;'>GM Mustard, ईस्ट-इंडिया कम्पनियाँ एवं काठ के घोड़ों की फ़ौज - भाग 3</span> <hr />GMO Emperors: The father of sick planet!

GM Mustard, ईस्ट-इंडिया कम्पनियाँ एवं काठ के घोड़ों की फ़ौज - भाग 3
GMO Emperors: The father of sick planet!

| June 22, 2017 | 5 Comments

अभी तक ‘GM Mustard, ईस्ट-इंडिया कम्पनियाँ एवं काठ के घोड़ों की फ़ौज’ लेख श्रंखला के दो लेख ((भाग १, भाग २) आ चुके हैं | इन दोनों लेखों को देश ने बहुत गहनता से पढ़ा है, Discuss किया है, criticize तो कम ही किया है – किन्तु एक कमेंट कई बार आया है – “Vishnu […]

Continue Reading

<span style='font-size: 12pt;'>GM Mustard, ईस्ट-इंडिया कम्पनियाँ एवं काठ के घोड़ों की फ़ौज - भाग 2</span> <hr />GMO Emperors! Are you up to feeding India -or fooling India? SACCHARIN!

GM Mustard, ईस्ट-इंडिया कम्पनियाँ एवं काठ के घोड़ों की फ़ौज - भाग 2
GMO Emperors! Are you up to feeding India -or fooling India? SACCHARIN!

| June 15, 2017 | 4 Comments

GM Mustard, ईस्ट-इंडिया कम्पनियाँ एवं काठ के घोड़ों की फ़ौज – भाग 1 से आगे… वैसे तो हर बड़ा तूफ़ान किसी छोटी-मोटी आंधी से शुरू होता होगा| वैसे तो हर बड़े ज्वार-भाटा की शुरुवात भी किसी छोटी समुंद्री हलचल से ही शुरू होती होगी; किन्तु हर छोटी मोटी आंधी, हर समुंद्री हलचल कितना बड़ा रूप […]

Continue Reading

<span style='font-size: 12pt;'>GM Mustard, ईस्ट-इंडिया कम्पनियाँ एवं काठ के घोड़ों की फ़ौज - भाग 1</span> <hr />Control oil and you control nations; control food and you control the people: The Alfred Kissinger Return

GM Mustard, ईस्ट-इंडिया कम्पनियाँ एवं काठ के घोड़ों की फ़ौज - भाग 1
Control oil and you control nations; control food and you control the people: The Alfred Kissinger Return

| June 15, 2017 | 10 Comments

भारत में खाद्य तेल पर विदेशी नियंत्रण की ऐतिहासिक पृष्ठभूमि “Control oil and you control nations; control food and you control the people.” ये शब्द थे 1969-75 के दौर में, अमेरिका के राष्ट्रपति Richard Nixon एवं  Gerald Ford के कार्यकाल में अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रहे, 56th United States Secretary of State, डिप्लोमेट एवं […]

Continue Reading

Who is reading ‘VigyaanMag’

Who is reading ‘VigyaanMag’

| June 11, 2017 | 0 Comments

विज्ञान के प्रथम दो अंक काफी सराहे गए | इन दो महीनों में विज्ञान में लिखे गए विभिन्न लेखो एवं ब्लोग्स को वैज्ञानिक समुदाय से लेकर विद्यार्थीगण एवं आम नागरिकों तक नें खूब सराहा | इन लेखों को भारत से लेकर अमेरिका तक और नोर्वे से लेकर साउथ अफ्रीका तक पढ़ा गया | Social media […]

Continue Reading