RSSविज्ञान ब्लॉग (VigyaanMag blogs)

इनफर्टिलिटी एवं मोटापा – एक सीधा सम्बन्ध

इनफर्टिलिटी एवं मोटापा – एक सीधा सम्बन्ध

| June 22, 2017 | 0 Comments

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पोस्टिंग के दौरान जब मैं ‘फील्ड विजिट’ पर जाता था, तो किसान अक्सर शिकायत करते पाये जाते थे – “देखियो डॉ साहब म्हारी भैंस गाभिन ही ना होत्ती”। मैं उससे पूछता…क्या क्या खिलाते हो। “अजी मैं तो हरा चारा बि खूब खुआउँ, भुस बि खुआउँ अर दाणा बि खूब ई दूँ। […]

520 total views, no views today

Continue Reading

नरों में निप्पल्स एवं अन्य अवशेषी अंग: एक परिचय

नरों में निप्पल्स एवं अन्य अवशेषी अंग: एक परिचय

| June 14, 2017 | 1 Comment

अवशेषी अंग…..वो अंग जो बेकार हैं…जिनकी उपयोगिता मनुष्य के लिए अब समाप्त हो चुकी हैं| रही होगी कभी, हमारे पूर्वजों में। कालान्तर में प्रकृति को लगा होगा कि ये सब अंग बेकार हैं इसलिए अब इन अंगों का आयात-निर्यात बंद कर दो। जैसे डाक विभाग ने टेलीग्राम बंद कर दिया। एक दो नहीं पूरे दस […]

578 total views, no views today

Continue Reading

प्रकृति का वरदान – मेलाटोनिन हॉर्मोन’

| June 13, 2017 | 1 Comment

वर्ष 1940…. कुंदन लाल सहगल साहब गुनगुना रहे थे… सो जा राजकुमारी सो जा… सो जा मैं बलिहारी सो जा… सो जा राजकुमारी सो जा… इन ‘लोरियों’ से रिलीज होता है ‘मेलाटोनिन हॉर्मोन’ जो जिम्मेदार है ‘सरकेड़ियन रिदम’ बोले तो…. सोने और जागने के चक्र के लिए।  मेलाटोनिन हॉर्मोन मनुष्यों और पशुओं की ‘पिनियल ग्लैंड’ […]

615 total views, no views today

Continue Reading

किड़नी स्टोन उर्फ़ पथरी

किड़नी स्टोन उर्फ़ पथरी

| June 12, 2017 | 5 Comments

एक थे मलिक साहब। हमारे साथ पढ़ते थे पंतनगर विश्वविद्यालय में। अविभाजित उत्तर प्रदेश के सबसे खूबसूरत शहर से थे, जहाँ कालान्तर में हमने अपनी ज़िन्दगी के 8 साल 8 महीने और 18 दिन बड़ी शान से गुजारे। जी हाँ, दून वैली। पहाड़ों की रानी मसूरी से मात्र 35 किलोमीटर दूर। उनकी बस एक ही […]

1,028 total views, 2 views today

Continue Reading

<span style='font-size: 12pt;'>Science: This Week</span> <hr />हवा से हाइड्रोकार्बन ईंधन

Science: This Week
हवा से हाइड्रोकार्बन ईंधन

| June 7, 2017 | 0 Comments

इन हफ्ते दो बड़ी वैज्ञानिक खोजों ने मुझे आकर्षित किया है, जो यहाँ विज्ञान के पाठकों के साथ शेयर करना चाहूँगा: पहली खबर स्विट्ज़रलैंड से: यहाँ वैज्ञानिको ने अपनी तरह की पहली मशीन बना डाली जो सीधे वातावरण से कार्बन डाई ऑक्साइड को खींच सकती है | इस तरह की मशीन का पहला commercial plant […]

341 total views, 1 views today

Continue Reading

हाँ, दर्द होता है !

हाँ, दर्द होता है !

| June 7, 2017 | 0 Comments

कई हजार साल पहले – ‘जियो और जीने दो’ का सन्देश महावीर स्वामी जैसे विद्वान् ने यूं ही तो नहीं दिया होगा | यूँ ही तो पौराणिक संस्कृति ‘जीवों पर दया करो’ की भावना से परिपूर्ण नहीं होगी | आज – जब भी कोई इक्का दुक्का पशुओं के प्रति दया भाव के इस विचार को […]

385 total views, 1 views today

Continue Reading

<span style='font-size: 12pt;'>Editorial Comment On भारतीय बेल – Aegle marmelos</span> <hr />भारतीय बेल संहिता: कुछ तथ्य

Editorial Comment On भारतीय बेल – Aegle marmelos
भारतीय बेल संहिता: कुछ तथ्य

| June 5, 2017 | 0 Comments

This article is an ‘editorial comment’ on  – भारतीय बेल – Aegle marmelos. In: विज्ञान संग्रह. vigyaan.org. Access URL: http://vigyaan.org/blogs/bb/662/. अभी कुछ दिन पहले वैज्ञानिक बंशी बाबा का ज्ञान वर्धक लेख “भारतीय बेल – Aegle marmelos” पढने को मिला | इस लेख को विज्ञान के विद्वान् पाठको ने काफी सराहा – किन्तु एक विषय पर […]

563 total views, 1 views today

Continue Reading

भारत में गोवंश: एक गहन चिंतन – भाग 1

भारत में गोवंश: एक गहन चिंतन – भाग 1

| June 1, 2017 | 1 Comment

चलो एक बछड़ा तो अख़लाक ने मार दिया या नहीं मार दिया और खा लिया या नहीं खा लिया। पर इसकी सज़ा तो उसे न्यायपालिका से भी पहले समाज़ ने दे ही दी। पहले अल्पसंख्यकों के सरपरस्त यह सिद्ध करने में लगे रहे, कि जो मांस फ्रिज़ में पाया गया वह तो मटन था (उत्तर […]

393 total views, no views today

Continue Reading

नॉन वेज की वेज बात – बंशी बाबा के साथ

| June 1, 2017 | 0 Comments

आज नॉन-वेज की वेज बात ! तो ज़नाब मुर्गी 🐔 पकाओ या मुर्गा 🐓, हैं दोनों ‘चिकन’ ही। मगर ‘मटन’ ने बड़ा कन्फ्यूजन कर रखा है। ‘मटन’ होता है नर भेड़ 🐑 या मादा भेड़ 🐏 का मांस। जबकि नर या मादा बकरे के मांस को बोलते हैं ‘चेवोन’। अर ताऊ बकरे का मांस खाकै […]

461 total views, 1 views today

Continue Reading

राइस ब्रान (Rice Bran) आयल का पोस्ट-मार्टम

राइस ब्रान (Rice Bran) आयल का पोस्ट-मार्टम

| May 29, 2017 | 11 Comments

जब हम पंतनगर विश्वविद्यालय में स्नातक पाठ्यक्रम में अध्ययनरत थे तो ‘पशु पोषण के सिद्धांत’ नामक विषय में जब प्रोफ़ेसर साहब ‘पशुओं का खान पान कैसा हो’ पढ़ाते थे तो गेहूं के चोकर (व्हीट ब्रान) और धान के चोकर (राईस ब्रान) की बात भी होती थी। पशुओं के लिए इनकी बहुत महत्ता है। है तो […]

1,978 total views, no views today

Continue Reading